इन 3 राशियों पर सदैव रहती है शनिदेव की कृपा, साढ़ेसाती हो या ढैय्या नहीं होता शनि का कोई प्रभाव !

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिदेव कर्म के अनुसार फल देते हैं। शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव जातकों को कष्ट देता है। जिससे दूर करने के लिए लोग कई उपाय करते हैं। शनि की दृष्टि पड़ने पर लोगों को तकलीफ उठानी पड़ती है। शनि कर्मदंड देते हैं। साथ ही अच्छे कर्म का फल भी देते हैं। हालांकि कुछ ऐसी राशियां हैं, जिन पर शनिदेव मेहरबान रहते हैं। इन राशियों पर शनि के क्रूर प्रभाव का असर नहीं होता। आइए जानते हैं कौन सी राशियों पर शनि की हमेशा कृपा बनी रहती है।

1. तुला राशि

तुला शनि देव की उच्च राशि है। इस राशि के जातकों पर कर्मफल दाता हमेशा मेहरबान रहते हैं। ऐसा माना जाता है कि इस राशि के लोग किसी का बुरा नहीं सोचते हैं। इस राशिवालों पर शनि अपनी कृपा दृष्टि बरसाते हैं।

2. मकर राशि

शनि मकर राशि के स्वामी ग्रह हैं। इस राशि के जातक काफी मेहनती होते हैं। वह अपने लगन से सबकुछ हासिल करते हैं। ये लोग हमेशा दूसरों की मदद के लिए आगे रहते हैं। इन पर शनि पर साढ़े साती और ढैय्या का प्रभाव नहीं पड़ता।

3. कुंभ राशि

इस राशि के स्वामी भी शनि देव है। शनि कुंभ राशि के जातकों पर मेहरबान रहते हैं। जिस कारण इनपर शनि की बुरी दृष्टि नहीं पड़ती है।

 

 

About rahul

Content Writer.

View all posts by rahul →

Leave a Reply

Your email address will not be published.